नवम्बर-दिसम्बर 3 किलो वजन कम हुआ लेकिन काफी बाधाओ के बाद

This post is also available in: English

31 दिसम्बर  2016

नमस्कार दोस्तों, आज साल 2016 का आख़िरी दिन हे ओर इस साल का मेरा आख़िरी अपडेट.. वैसे आज मैं खुश हूँ इन 2 महीनों मे मेरा 3 किलो वजन ओर कम हो गया है. 30 अक्टूबर को मेरा वजन 76 किलो था और आज मेरा वजन 73 किलो हो गया है ….वैसे तो मुझे उम्मीद थी की 4-5 किलो तक वजन कम कर पाऊँगी, क्योंकि अक्टूबर मे काफ़ी परिवर्तन किये थे. जिससे अच्छे परिणाम मिले थे, जिसकी वजह से आत्मविश्वास बढ़ गया था की अगले महीने(नवंबर) मेँ  काफ़ी वजन कम हो जाएगा.

पर पिछले दो महीने मे कई ऐसी चीज़े हुई जिसकी वजह से मेरा वजन कम करना बहुत मुश्किल हो गया. बल्कि काफ़ी समय तो वजन कम होना नामुमकिन था:( ये दो महीने मेरे सफ़र के सबसे ज़्यादा परेशानियों वाले निकले. भगवान करें आगे ऐसा ना हो.

सीमा 73 किलो 31 दिसम्बर

 

अभी मेरा वजन   73

अब तक  कुल वजन कम हुआ  17 किलो
पिछले 2 महीने में वजन कम हुआ – 3 किलो

 

मेरी डाइट (1 नवम्बर  से 1 दिसम्बर तक)

डाइट वहीं हैं जो अक्टूबर में थी, उसमें कोई बदलाव नही किया हैं.

नवम्बर से एक बड़ा परिवर्तन किया हैं अब मैं पूरे दिन गरम पानी ही पियूँगी. पहले सिर्फ़ मैं सिर्फ सुबह ही गरम पानी पीती थी. कई एक्सपर्ट्स के अनुसार, गरम पानी पीने से मेटबॉलिज़म तेज बना रहता हैं और ये स्किन के लिए भी अच्छा हैं.

शुरू मे गरम पानी से प्यास नही बुझती थी पर कुछ दिनों मे ही उसकी आदत पड़ गयी और अब मुझे सादा पानी पीने से संतुष्टि नही आती. मैं आशा करती हूँ, ये  परिवर्तन अच्छे परिणाम दे.

 

मैंने इस महीने मे अक्टूबर डाइट ओर व्यायाम का ही अनुसरण करने की कोशिश की हैं. कोशिश इसलिए की इस महीने मे काफ़ी कुछ हुआ जिसकी वजह से  व्यायाम ओर डाइट काफ़ी उपर नीचे होती रही ओर इस बार मेरा वजन शुरू के 10 दिन मे (10 नवम्बर को) 1 किलो कम होकर 75 किलो हो गया था पर नवम्बर महीने के आख़िर तक कम हुआ वजन भी वापस बढ़ गया ओर 76 किलो हो गया मतलब इस महीने के अंत तक मेरे वजन का कुछ नही हुआ ना कम हुआ  ना बढ़ा ..

 

एक साथ 3 शादियां

इसके कई कारण रहें. नवम्बर मे मेरे हस्बैंड के 3 कज़िन्स की शादियाँ थी. ओर तीनो ही काफ़ी खास थी, इसके चलते तकरीबन 10 दिन की पार्टीस रहीं ओर पुरे  पुरे दिन का आउटिंग हो गयी. जिसकी वजह से डाइट ओर व्यायाम पूरी तरह से फ़्लॉप हो गया

जैसा की मेने पहले बताया था की इस महीने के  शुरू मे मेरा वजन 1 किलो कम हुआ था पर इन शादियों के खाने की वजह से (हालाँकि मेने बहुत ही कम करके खाने की कोशिश की). मेरा एक किलो  वजन वापस बढ़ गया ओर गाड़ी जहाँ से शुरू हुई थी वही आ गयी….

 

दीदी की जयपुर ट्रिप

इन शादियों के ख़तम होते ही मेरी बड़ी बहन अपनी फॅमिली के साथ छुट्टियाँ बिताने आ गयी(ये काफी ख़ुशी की बात हैं) ओर 3 दिन तक पूरे दिन की  आउटिंग और बाहर का खाना सब कुछ पर पहले ही 10 दिन वेट लॉस के हिसाब से खराब गएँ थे, इसलिए अब मेरे पास संभालने के अलावा कोई रास्ता नही था ओर मैने खाने पीने पर ध्यान दिया, बाहर का खाना कम से कम खाया (पर फिर भी पुरें दिन बाहर रहतें हैं तो कुछ ना कुछ तो हो ही जाता हैं, आदमी कितना कंट्रोल करें 😛 ), पर डाइट बिल्कुल फॉलो नही कर पाई.

Weight Loss Journey

 

चिकनगुनिया – हाँ चिकनगुनिया

मेरी दीदी को गए हुए बस 2 ही दिन हुए थे की अचानक मेरी तबियत खराब हो गयी, पूरी बॉडी मे सिवियर दर्द होने लगा जेसे पूरी बॉडी अकड़ गयी हो ओर बॉडी दर्द की वजह से मेरा कुछ भी करना मुमकिन नही हो रहा था. डॉक्टर को दिखाया तो उन्होने बताया ये चिकनगुनिया के लक्षण हैं. उसके बाद 10 दिन पूरी तरह  बेड रेस्ट रहा. और डाइट भी पूरी तरह से बदल गयी.

ग़लत बात ये हुई की सुबह शाम मैने 2-2 घी वाली रोटी सब्ज़ी खाई और मीठी चाय पी. पर अच्छी  बात ये रहीं, चिकनगुनिया का असर कम करने के लिए ज़्यादा से ज़्यादा लिक्विड डाइट ली. चिकनगुनिया का नाम सुनके मैं काफ़ी डर गयीं थी, मेरे कुछ परिजनों के ये हुआ था और उनके अनुसार, शरीर के दर्द  को पूरी तरह से जाने मैं 2-3 महीने लग जाते हैं. और ये रह रह कर वापस भी बढ़ जाता हैं.

ऐसा मेरे साथ ना हो, इसके लिए काफ़ी गूगल सर्च करी और एक डाइट बनाई, क्यूँ की 2-3 महीने अगर ऐसे ही चले गए, तो मेरा पतला होने का सपना सपना ही रह जाएगा.

 

चिकनगुनिया के टाइम 10 दिन तक ये  डाइट रही,

8 बजे –  1 ग्लास गरम पानी
9:00 am –  नॉर्मल मीठी चाय
10.00 am  –   गिलोय का  जूस – नवरस जूस (एलोवेरा, आँवला, पपीता के पत्ते, गिलोय, पीपल के पत्ते, नीम के पत्ते, करेला वगैरा), ये काफ़ी काफ़ी काफ़ी कड़वा होता हैं, मैने इससे ज़्यादा कड़वा कभी कुछ नही पिया. पर ये  खास तौर से चिकनगुनिया को ठीक करने की ही ड्रिंक हैं.
10:30 am  –  ओट्स
11:30 am  –  तुलसी ओर धनिया पाउडर की चाय  (15-20 तुलसी के पत्तो को 1 चम्मच धनिया पाउडर के साथ उबाल कर 10 मिनट मंदी आँच पर उसे छान कर पिया)

12:00 pm –  2 घी की चपाती सब्जी के साथ
12:30 pm – पतंजलि गिलोय वटी 2 गोली ( चिकनगुनिया ठीक करने के लिए )
1:30 pm – ग्रीन टी
2:30 pm – नारियल पानी
3:00 pm –  1 ग्लास गरम पानी
4 pm –  ग्रीन टी

5:30 pm – नॉर्मल मीठी चाय
6:30 pm – 1 ग्लास गरम पानी

8:00 pm –  2 घी की चपाती सब्जी के साथ
8:30 pm – 1 नारियल पानी
9:00 pm – तुलसी धनिया चाय
10:00 pm – 2 गिलोय वटी गोली

 

इस तरह ज्यादा से ज्यादा पेय पदार्थों के साथ ये 10 दिन निकले पर, इन दीनो मे दोनो समय 2 -2 घी वाली चपातियाँ खा रही थी और नॉर्मल मीठी चाय पी रहीं थी. तो मुझे लग रहा था की अब मेरा वजन ओर बढ़ जाने वाला हैं. पर भगवान की दया से ना वजन बढ़ा ना कम हुआ.

पर इस चिकनगुनिया की लिक्विड डाइट ने सच में काफ़ी असर किया, अब मेरा दर्द काफ़ी कम, तकरीबन 80% कम हो गया था. और इसकी वजन से बुखार भी नही बढ़ा.

 

डाइटिंग मे वापसी

अब समय था डाइट ओर व्यायाम मे वापसी का, 15 दिसम्बर से मैने वापस डाइट शुरू की मेरा वजन 76 किलो ही था.

पर पिछली हिस्टरी के अनुसार मेरा ज़्यादातर वजन आख़िरी के दिनों मे ही होता है. पर इसका अर्थ ये बिल्कुल भी नही हे की ये वजन केवल उन आख़िरी दिनों की वजह से कम होता हैं, बल्कि ये वजन मेरे पूरे लंबे समय से चल रहीं डाइट  की वजह से हुआ होता हे. पर इस बार वैसा नही था, पिछले 30 दिनों से तो मैं डाइट कंटिन्यू नही कर पा रहीं थी.

पर चिकनगुनिया वालें 10 दिन की लिक्विड डाइट से सकारात्मक असर पड़ा, मेरा वजन तो कम नही हुआ था पर इंचस(मोटापा) कम हुए थे.  कई बार आपको स्केल पर वजन मे अंतर दिखने मे टाइम लगता हे जबकि शरीर मे आपको परिवर्तन महसूस हो जाते हें इसी तरह मुझे भी मेरी बॉडी मे चेंजस फील हो रहे थे और टेप से नापने पर भी तकरीबन 1 इंच तक कम हुआ था.

पर 15 दिसम्बर तक पर वेट मशीन पर कोई चेंजस नही थे इसलिए मुझे लग रहा था की अगर मे इन 15 दिनों को अच्छे से इस्तेमाल करें, तो शायद कुछ फ़ायदा दिखेगा.

और  मैने इन 15 दिनों को भुनाने का सोच लिया, फिर सबसे पहले तो अपना दिनचर्या टाइट की, फिर  अपनी वॉक ओर बहुत हल्का व्यायाम चालू किया. अभी ज़्यादा कुछ नही कर पा रही थी क्योकि अभी भी बॉडी में दर्द था.

 

उसके अलावा मेने डाइट मे भी थोड़े परिर्तन किए, जैसे

  1. दाना मेथी के पानी की जगह 5 बादाम खाने लगी
  2. फलों की सलाद में सब्जा बीज(Chiya Seeds) मिला कर खाया
  3. नवरस जूस चालू रखा.
  4. अंकुरित बीजो की सलाद की जगह, घिया का जूस शुरू किया.
  5. और रात में प्रोटीन लड्डू की जगह वेजिटेबल सूप शुरू किया
  6. और 5 दिन तक मैने खाने से पहले ईसबगोल भी पिया, इसके बारे में विस्तार से मैं आपको थोड़ी देर बार बताती हूँ.

 

और अब मेरी डाइट इस तरह हो गयी

सुबह का खाना

5:30 am– एक ग्लास गरम पानी
6:00 am– 1 अखरोट ओर 5 बादाम
6:30 am–  1/2 सेब या 40 ग्राम अनार या ½ अमरूद ओर भी कोई कॉंबिनेशन जो अच्छा लगे  +1 छोटी चम्मच भीगी हुई सब्जा बीज( Chiya Seeds)
7:15 am– दालचीनी-अदरक की चाय – पानी मे दाल चीनी ओर अदरक उबाल कर छान कर, और उस गरम पानी मे आधा नीबू निचोड़ कर, थोड़ा काला  नमक मिलकर पिया (175 ml )
8:45 am– नवरस जूस मैने चालू रखा, क्यूँ की वो मेरे पेट के लिए काफ़ी अच्छा रहा.
10:00 am– घिया का जूस 175ml
दिन का खाना

1:00 pm– ओट्स (40 ग्राम पका हुआ) या 1 ग्लास बाज़ारे की राबड़ी  (ये एक आम राजस्थानी डिश हैं, छाछ मे बाजरे का आटा ओर नमक मिला कर उसे उबालते हैं. और उबलने तक लगातार हिलाते हें और उबलने लगने पर हिलना बंद कर के 10 से 12 मिनट तक और उबलने देते हें )
2:00 pm– वेजिटेबल सलाद (30 ग्राम टमाटर + 20-25 ग्राम खीरा + गाजर 20-25 ग्राम )
3:00 pm–  ½ चपाती + थोड़ी सी सब्जी(ये आधी चपाती कभी कभी, रोज नही बस इच्छा होने पर, क्यूंकि रोटी के बगैर रहना मुश्किल हे 🙁 )
5:30 pm–  ग्रीन टी (175ml )
रात के समय

7:30 pm–   1 ग्लास नींबू पानी काले नमक के साथ
9:00 pm–  वेजिटेबल सूप या आधी रोटी.

 

चिया सीड्स(सब्जा बीज) का उपयोग –

सब्ज बीज वेट लॉसइस बार मेने डाइट मे सब्जा बीज का इस्तेमाल करना शुरू किया। ये मैं काफ़ी समय से इस्तेमाल करना चाहती थी, पर मेरे आसपास ये उपलब्ध नही था, पर इस बार ये मेरे एक दोस्त की वजह से मुझे मिल गया.

चिया सीड्स का सबसे अच्छा फायदा हैं, इसमें काफ़ी कम कैलोरीज होती हैं पर ये पोशाक तत्वो से भरा हुआ हैं. इसमें काफ़ी फाइबर होता हैं जो आपके पेट को भरा भरा महसूस करता हैं. सब्जा बीज का अपना कोई स्वाद नही होता, इसलिए ये किसी भी खाने में अच्छे से मिल जाता हैं. पर सिर्फ़ भीगे हुए चिया सीड्स का ही उपयोग करें.

पर मैं आपको एक रोचक बात बताती हूँ. जब मैंने पहली बार चिया सीड्स के बारे मे पढ़ा और उसे देखा था, तो मुझे उसे देखने मे ही लगा की मैं ये नही खा सकती. मैने अपने आप को ये सोच के मना लिया था की ज़रूरी नही है  की आप जो भी वेट लॉस फुड देखो उसे खाओ ही सही उसके अलावा भी काफ़ी कुछ हे जिससे वजन कम कर सकतें हैं.

पर जब मेरा कुछ भी नही हो रहा था ओर वेट लोस्स प्लाटू मे उलझने लगी थी. तब से ही मैंने धीरे धीरे अपना  मन बना लिया था, कि  मे चिया सीड्स को भी ट्राइ करना चाहिए (फायदा करता हैं तो आँख बंद करके पी लूंगी :प). पर मुझे वो मेरे आस पास मिल नही रहा था. इसलिए वो शुरू नही हो पाया, फिर अब जाकर ये मिला तो मैंने इसे शुरू किया. शुरू मे मैंने इसे सिर्फ़ भिगो कर किसी भी फल के साथ खाना शुरू किया ओर शाम को भी वेजिटेबल सूप मैं डाल कर कहना शुरू किया.

 

ईसबगोल(psyllium husk) का उपयोग.

कुछ समय पहले मैने डॉ  शालिनी का ईसबगोल का वीडियो देखा, उनके अनुसार, मैन मील से 20 मिनिट् पहले ईसबगोल का उपयोग करने से वेट लॉस होता हैं. उसका कारण हैं, इसबगोल अपने पेट(पाचन तंत्र) में एक परत बना देता हैं, जिससे उसके बाद जो भी हम खाते हैं, उससे शरीर  पोशाक तत्व तो खींच लेता हैं पर बाकी फैट को बाहर निकलने देता हैं. इससे हमें काफी कम कैलोरीस में काफी पोषक तत्व मिल जातें हैं.  और ये  कब्ज(constipation) भी  नही होने देता, जो आपका वजन बढ़ने और कम नही होने का सबसे बड़ा कारण हैं.

Weight Loss Diet

इस लेने के लिए, 1 चम्मच ईसबगोल को 100 ml  पानी में मिला के 5-10 सेकंड के अंदर पी जाना हैं. पर इसे 4-5 दिन तक ही करना होता हैं, ज़्यादा करेंगे तो फायदा नही करता.

इस महीने बॉडी दर्द के कारण, मेरी व्यायाम ज़्यादा नही हुआ. पर डाइट में इन सभी परिवर्तनों का मुझे अच्छा फायदा हुआ और 30 दिसम्बर को मेरा वजन 73 किलो हो गया हैं, और आज भी वेट मशीन 73 ही दिखा रहीं हैं :).

 

सीमा HeathySystem.in

 

एक विचार

कई बार मुझे विचार आता हैं  कि  मुझे आप लोगो को अपनी पर्सनल प्राब्लम को शेयर नही करना चाहिए जैसे की शादियाँ बीमारी या ओर भी कुछ.  पर मुझे लगता हे की हमारे सफ़र मे रुकावटें आती ही हें चाहे वो कोई भी रुकावट हो हर किसी को अलग अलग तरह की परेशानियाँ आती हें बस इंपॉर्टेंट हैं की आप चलते रहें, धीरे या बहुत धीरे फ़र्क नही पड़ता बस वो छूटे ना. देर सवेर आप अपना लक्ष्य पा ही लेंगे.

 

 

इस साल का आख़िरी दिन और मेरा लक्ष्य

इस साल जो मैने 30 किलो वजन कम करने का जो लक्ष्य रखा था, वो पूरा नही हो पाया हैं. पर जब मैने लक्ष्य बनाया था, तब मुझे वेट लॉस की ज़्यादा जानकारी नही थी और ये  भी नही पता था की क्या क्या परेशानिया आएगी.

पर इस साल मेरा कुल 17 किलो वजन कम हुआ, और मैं इससे काफ़ी खुश हूँ. 17 किलो वजन कम नही होता, अब मुझे 13 किलो वजन और कम करना हैं. मैं नही जानती इसमें कितना और समय लगे. पर अगर एक औसत निकाले तो मेरा 1.5 किलो वजन हर महीने कम हो रहा हैं. इस हिसाब से मुझे अपने लक्ष्य को पाने मैं 8-9 महीने और लगेंगे. मतलब अगस्त सितम्बर तक(ओह्ह अभी तो काफी समय लगेगा)

पर मैं पूरी कोशिश करूँगी अपने लक्ष्य को 6 महीनो(जून तक) में  ही पा लूँ. बाकी तो भगवान पर हैं.

 

NOTE - Friends, I am not dietitian or Doctor, I write information here on the basis of my own 25 kilo weight loss experience and sometimes from online research. Please take doctor advice before applying any tip, as each and every human body is different.

Right Way to lose Weight - Which Helped me

 
2 Comments
  • Sangeeta rathore
    Posted at 13:12h, 31 January Reply

    Congrats..keep it up

    • SeeMe
      Posted at 04:22h, 04 April Reply

      Thanks Sangeeta 🙂 , I hope i lose more weight and become 60 Soon 😀

Post A Comment