This post is also available in: English

आज 4 जनवरी 2016 हैं अभी मेरा वजन 90 किलोग्राम हैं और आज से मैंने सुबह घूमना स्टार्ट किया हैं  मैं अपने पार्क के 5 राउंड करती हूँ जो लगभग 2 किलोमीटर के बराबर होंगे.  इस बार मैंने सोचा हैं सप्ताह मैं 6 दिन घूमने जाउंगी, अगले 1 महीने तक. बस इस बार १ महीने लगातार घूमना यहीं मेरा टारगेट हैं.

 

आज  8 फरवरी 2016 हैं, मुझे सुबह घूमते हुए पूरा 1 महीना हो गया हैं और मुझे ख़ुशी हैं इसमें मैं काफी रेगुलर रहीं , ऐसा शायद पहली बार ही हुआ होगा, की मैंने लगातार १ महीने तक वाक की. आज मैंने अपना वजन लियां, वह अभी भी 90 किलोग्राम ही हैं, ओह्ह येह क्या, सुबह घूमने का मेरे वजन(Weight) पर कोई फर्क नहीं पड़ा ☹. पर मैं अंदर से अपने आप को थोड़ा सा हल्का महसूस कर रहीं हूँ, जो काम करने मैं पहले मुझे थोड़ी दिक्कत होती थी, अब वह कम हुई हैं.
 

मेरे पति ने मुझसे कहाँ सिर्फ घूमने से खास फर्क नहीं पड़ेगा, येह सिर्फ हेल्थ को ठीक करेगा, मोटापा तो कम केवल दौड़ने से ही होगा. मैंने भी गूगल किया और यहीं  पाया, पर मैं दौड़ नहीं सकती, एक तो मुझे अब दौड़ना अजीब सा लगता हैं सबके सामने और दूसरा मेरे घुटनो का दर्द बढ़ रहाहैं. इससे मैं अपनी स्पीड और डिस्टेंस नहीं बढ़ा पा रहीं हूँ.

येह एक महीना रेगुलर रहना मुझे थोड़ा कॉन्फिडेंस दे गया, अब मैं सोच रहीं हूँ, घूमने के साथ साथ मैं थोड़ी एक्सरसाइज और प्राणायाम भी शुरू करूँ. पर सुबह सुबह येह करना पॉसिबल नहीं, सुबह बच्चों का स्कूल रहता हैं, सो येह काम मैं श्याम को करने का सोच रहीं हूँ.  

मैंने पहले भी बीच बीच मैं प्राणायाम और एक्सरसाइज की हैं. सो मुझे बेसिक आईडिया तो हैं , मैं येह सब करने की सोच रहीं हूँ.

प्राणायाम योगा

कपालभांति – 10 से 15 मिनट

 

अनुलोम विलोम – 5 से 10  मिनट

 

येह सब मैं ३ सप्ताह तक फॉलो करुँगी, उसके बाद वजन(Weight) देखूंगी…