This post is also available in: English

वजन – 90 किलो
Weight Loss – कोई परिवर्तन नहीं

आज 4 अप्रैल 2016 हैं और आज मैंने अपना वजन लियां, पर कुछ फर्क नहीं पड़ा, अभी भी मेरा वजन 90 किलो ही हैं. इसका मतलब मैं सही रास्तें नहीं जा रहीं. अब तो मुझे लग रहां हैं की क्या सच मैं वजन क़म कर पाऊँगी, येह तो थोड़ा भी कम नहीं हो रहां हैं. मैंने अब तक ३ महीने मैं जो भी कियां, या तो वो मोटापा कम करने का सही तरीका नहीं हैं या मैं वो उतना या उस तरह से नहीं कर रहीं जितनी जररूरत हैं. और दूसरा पॉइंट ही मुझे सही लग रहां हैं.

इस बार मेरे पति ने मुझे रोज 1-2 घंटे रिसर्च करने के लिए बोल हैं, जिससे बिलकुल सही तरीका पता चलें, नहीं तो कुछ ही दिनों मैं रहां सहा जोश भी चला जायेगा, और मैं इस बार इसे इस तरह से छोरने के मूड मैं नहीं हूँ, क्यों की मुझे बार बार लग रहां हैं की अगर मैं अब भी नहीं कर पाई तो आगे भी नहीं कर पाऊँगी.

 

मुझे लगता हैं सिर्फ चाय या खाना क़म करने से बात नहीं बनेगी, डाइटिंग(Dieting) से मैं तो यहीं मतलब समझती थी की खाना कम करना ही डाइटिंग हैं. पर डाइटिंग का मतलब हैं, ऐसा खाना खाना जो वजन बढ़ाएं नहीं क़म करें.

 

इस बार मैं कुछ अच्छी साइट्स के आर्टिकल्स पढ़े, जैसे AuthorityNutrition.com webmd.com येह दोनों काफी डिटेल से हर पॉइंट को सिखाती हैं. अब मुझे काफी कुछ समझ आ रहां हैं.

Weight loss करने से पहले इसका साइंस समझना बहुत जरूरी हैं. यहाँ आप इसे डिटेल से देख सकतें हैं.

 

मैं आपको यहाँ कुछ इम्पोर्टेन्ट बताती हूँ,

जो खाना हम खाते हैं , उसमें बहुत तरह के तत्व होतें हैं, जो हमको एनर्जी देते हैं हमारे सिस्टम को चलाने मैं मदद करता हैं. पर साथ साथ मैं वो फैट(चर्बी) भी बढ़ाते हैं. कुछ फ़ूड एनर्जी ज्यादा देते हैं और फैट भी. पर कुछ फ़ूड फैट क़म देते हैं पर एनर्जी काफी देते हैं. पतला होने के लिए  हमें सिर्फ वहीँ खाना (food) खाना चाहिए जो फैट (चर्बी) क़म बढ़ाएं पर एनर्जी उतनी ही दे.

इसका मतलब हैं वजन क़म करने के लिए एक डाइट प्लान रेडी करना होगा, जिसमें फैट क़म और एनर्जी बढ़ने वाले तत्व ज्यादा हो. मैंने एक लिस्ट बनायीं हैं, उन सभी तत्वों की, जिसकी जानकारी हर पतले  होने वाले  वाले को होनी चाहिए, आप इसे यहाँ देख सकतें हैं.

मैं १००% वेजिटेरिअन हूँ , और ज्यादातर ऑनलाइन डाइट प्लान्स नॉन वेज को परेफरेंस देते हैं, क्यों की नॉन-वेज मैं प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती हैं, जो की मोटापा कम करने के लिए काफी जरुरी हैं. मुझे ऑनलाइन कोई भी आसान और प्रैक्टिकल डाइट प्लान नहीं मिला जो मेरे हिसाब से हो. काफी रिसर्च करने के बाद मैंने आखिर अपना एक इंडियन और वेजिटेरिअन डाइट प्लान रेडी किया हैं.

 

मेरा पहला डाइट प्लान

  • 7.30am – गुनगुना पानी और कड़ी पत्ता
  • 9.00am – अंकुरित चने
  • 12pm – २ चपाती + सब्जी + Chach
  • 5.30pm – ग्रीन टी
  • 8.30pm – २ चपाती + सब्जी

अब मेरे पास एक डाइट प्लान(Diet Plan) हैं, मॉर्निंग वाक, एक्सरसाइज के साथ साथ अब मुझे इसे फॉलो करना हैं. और मैंने आज से ही   इसे फॉलो करना शुरू कर दियां.
पर इस बीच मैने सर्च करना नहीं छोड़ूंगी. सच बताऊँ तो मेरी डाइट कभी भी ज्यादा नहीं रहीं, मैं कभी भी पेटू नहीं रहीं, पर फिर भी मेरा वजन मेरी उम्र के हिसाब से काफी ज्यादा हैं. शायद इसका मूल कारन मेरी बीमारी (thyroid) हैं. अब मैंने अपनी सर्च को एक नयी दिशा दी हैं, और  अब मैं thyroid के बारें मैं पढ़ने लगी हूं  और मैंने पाया की, thyroid की वजह से मेरा मेटाबोलिज्म रेट(metabolism rate) आधा हो गया हैं. जिस तरह से मैं खान खाती हूँ, उस तरह से वह पचता (Digest) नहीं. इसी वजह से मेरी बॉडी मैं फैट(Fat) ज्यादा हो गया हैं.

 

क्या मेरा thyroid मेरा वजन नहीं होने दे रहा

अब मुझे समझ आ गया हैं मेरा वजन कम करना बहुत आसान नही हैं.मुझे अब मेरी बीमारी के साथ पतला होना हैं.इसलिए मेने अब अपनी रिसर्च को नयी दिशा दी मेने अब थयरॉइड साथ वेइट लॉस के बारे मे पढना शुरू किया हैं.

 

आमतौर पर मोटापा कम(Weight Loss) करने के लिए हाई प्रोटीन वाले खाने को प्राथमिकता दी जाती हैं, पर मेरा मेटाबोलिज्म रेट जो की थयरॉइड की वजह से नॉर्मल से भी आधा रह गया हैं वो तो उस खाने को पचा ही नहीं पाएगा. इसकी वजह से मेरा मोटापा कम होने की जगह बढ़ता चला जायेगा.

अब मेरे पास एक सवाल हैं, मैं क्या खाऊन जो जल्दी पचे और मुझे भूख भी ना लगे. अब मुझे फिर से अपने डाइट चार्ट(Diet Chart) मैं बदलाव करने की जररूरत हैं. जैसे की अंकुरित चने जिसमें प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती हैं, जो की वेट लॉस के लिए फायदेमंद हैं, वह मैं नहीं खा सकती.
मेरा मेटाबोलिज्म रेट कम होने की वजह से मुझे खाने कम मात्रा मैं कई बार खाना पड़ेगा, जिससे वह आसानी से पच जाएँ. वैसे अगर आपके घर मैं कोई डायबिटिक पेशेंट हो तो आपको यह पहले से ही पता होगा. इससे ज्यादा भूख भी नहीं लगती और वजन भी नहीं बढ़ता, कम ही होता हैं.

अब मैंने अपना डाइट प्लान बदल दियां और उसे मेरे कमरें के व्हाइटबोर्ड पर लिख दिया जिससे मैं आतें जातें बस उसे ही देखूं और मुझे वह हमेशा याद रहें.

 

बेहतर डाइट प्लान (चार्ट)

  • 5.30am – गुनगुना नीम्बू पानी
  • 7.00am – ग्रीन टी / करी पत्ता
  • 9.30am – ओट्स / Lauki का जूस
  • 12.00pm – 1 चपाती + 1 गिलास छाछ
  • 2.00pm – 1 टमाटर / 1 कटोरी दही
  • 3.00pm – 1 चपाती
  • 5.30pm – ग्रीन टी
  • 6.30pm – 2 बिस्कुट (फैट फ्री)
  • 8.30pm – 1 चपाती
  • 9.30pm – 1 खीरा + 1 टमाटर

 

 

मिठाई छोडना

मैंने कई आर्टिकल्स मैं पढ़ा, चीनी भी काफी मोटापा बढाती हैं. कई डायटीशियन सबसे पहले चीनी और उससे बनी सभी मिठाइयां,चाय, जूस इत्यादि, जिनमें किसी भी तरह से चीनी मिलती हो सब बंद करने के लिए कहतें हैं.

 

इसका वैज्ञानिक(scientific) कारन – चीनी अपने शरीर मैं इन्सुलिन के मात्रा को बढाती हैं और इन्सुलिन अपने शरीर मैं फैट को ज्यादा जमा करता हैं. अगर चीनी लेनी बंद कर दी जाएँ तो अपने शरीर मैं फैट(Fat) जमा होने की स्पीड काफी क़म हो जाएगी. जिससे हम और मोटे नहीं होंगे. और जब अपन सिर्फ न्यूट्रिशियस डाइट ही लेंगे, जैसे मैंने इस बार तय किया हैं, तो हमारा शरीर फैट को खत्म(Fat burn) करने लग जायेगा, उससे एनर्जी लेने के लिए. और हमारे शरीर मैं बचा हुआ फैट(चर्बी) भी कम होने लगेगा.
येह मेरे लिए सबसे कठिन लक्ष्य होगा, मैं एक ब्राह्मण फैमिली से हूँ और हम मिठाई काफी शौक से कहतें हैं. अब बाकि सब मिठाई खाएंगे और मुझे बस देख कर ही काम चलाना होगा, ohh :(:(.

अब मुझे अपनी परफेक्ट डाइट मिल गईं हैं और मैंने अपनी दिनचर्या (schedule) भी सेट कर लियां हैं.

 

 

मेरा अपडेटेड शेडूल (दिनचर्या और व्यायाम )

सुबह का घूमना – 20 मिनट – 2 किलोमीटर
1 घंटा व्यायाम

+ पूरा दिन हाउस वाइफ का काम और बच्चों को सम्भालना

 

बड़ी अड़चन

पर जैसा कहतें हैं ना, जब भी कोई बड़ा काम करते हैं तो कई परीक्षाएं पास करनी पड़ती हैं. अब मेरे साथ भी ऐसा ही हुआ हैं. शादियों का मौसम आ गया हैं, अगले 15 दिनों मैं 5 पार्टीज के इंविटेशन हैं. मैं तो हमेशा से ही ऐसी पार्टीज का इंतज़ार करती हूँ. मैं एक हाउस वाइफ हूँ, घर से बहार निकलना काफी क़म होता हैं, इसलिए जब भी बाहर जाने का मौका मिलता हैं मैं छोडना नहीं चाहती और वह भी पार्टीज जिसमें इतना लजीज खाना होता हैं. अब मैं क्या करूँ :(:(

 

स्वादिष्ट खाना

 

एक मन तो कह रहां हैं, येह डाइट 15 दिन बाद से ही शुरू करती हूँ 😀 😀 पर नहीं, क्यों की मुझे इस बार लग रहां हैं इस बार अगर मैं नहीं कर पाई तो कभी नहीं कर पाऊँगी. मैं सभी पार्टीज मैं जाउंगी तो सही पर ना तो मिठाई खाऊंगी और ना जंक फूड्स.

अब मैं येह डाइट और दिनचर्या 15 दिन फॉलो करती हूँ, अनुशाश्मत तरीके से, देखतें हैं इसका कितना फर्क पड़ता  हैं.